Tuesday, Jun 18 2024 | Time 04:00 Hrs(IST)
 logo img
देश-विदेश


JEE क्लियर कर दिल्ली में लेने वाला था एडमिशन, 12 वीं में कम नंबर आने पर किया आत्महत्या, सोसाइड नोट में लिखा "बहुत बेइज्जती महसूस हो रही थी"

JEE क्लियर कर दिल्ली में लेने वाला था एडमिशन, 12 वीं में कम नंबर आने पर किया आत्महत्या, सोसाइड नोट में लिखा

न्यूज11 भारत


रांची/डेस्कः- उत्तर प्रदेश के गोरखपुर से एक दिल को झकझोर देने वाली घटना सामने आई है, जहां एक छात्र ने सीबीएसई 12वीं  मे कम नंबर आने की वजह से आत्महत्या कर ली है. शव पंखों से लटका मिला है. खबर मिलते ही पुलिस शव को कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. खबरों से पता चला कि छात्र सुबह नहीं जगा तो मां ने दरवाजा खटखटाया, कोई आवाज न आने पर खिड़की से झांक के देखी तो लड़का पंखें से झुला था. दृश्य देख मां रो रो कर परेशान रही. मौके से एक सुसाइट नोट भी मिला है. 19 वर्षीय ओजस्वी श्रीवास्तव के पिता प्रदीप श्रीवास्तव बैंक में इंश्योरेंश का काम करतें हैं. कुछ दिन पहले ही बेटे की जेईई में अच्छे नंबर आए थे, उन्हें दिल्ली में अच्छा सा कॉलेज भी मिल रहा था. दिल्ली जाने के लिए पिता ने बेटे का टिकट भी करवा दिए य़े. ओजस्वी को दो दिन के बाद दिल्ली जाकर एडमिशन भी लेना था. इसी बीच उसका इंटरमीडिएट का रिजल्ट आ गया, जिसमें अपना कम नंबर देख उसे बहुत दुख हुआ. उसी शाम उसने कमरा बंद कर सोने चला गया मां खाने के लिए भी बुलाई पर नहीं आया. रात में जब सारे लोग सो रहे थे तो उसने एक सोसाइड नोट लिखकर पंखे से झूल गया. नोट में उसने लिखा है कि उसने पढ़ाई में बहुत मेहनत की थी, कोई कसर नहीं छोड़ा था पर नंबर नहीं आ सका, उसने ये भी लिखा कि कैसे मैं लोगों को बता पाउंगा कि मेरा इतना कम नंबर आया लोग मेरी बेइज्जती करेगें. ऐसे में मेरा जीना बेकार है, मै प्राउड फील नहीं कर रहा हूं, मैं अब इस दुनियां को छोड़ कर जा रहा हूं. ओजस्वी अपने माता पिता का इकलौता पुत्र था, बड़ी बेटी प्रज्ञा चेन्नई से एमसीए कर रही है. 

 


 
अधिक खबरें
भगवान श्रीकृष्ण को प्रिय हैं ये पांच चीजें, घर में रखने से होती है समृद्धि और धन की प्राप्ति
जून 17, 2024 | 17 Jun 2024 | 10:05 PM

भगवान श्री कृष्ण को इस देश में काफी श्रद्धा से पूजा जाता है. उनकी पूजा करने का बेहद खास महत्व है. अपरंपार महिमा वाले श्री कृष्ण भक्तों की हर मनोकामना पूर्ण करते हैं. उनकी पूजा की विधि भी बिल्कुल सरल है. इसके लिए आपको रोजाना सुबह स्नान कर भगवान श्रीकृष्ण (Lord Krishna) की विधिपूर्वक पूजा करनी चाहिए. इसके बाद आपको कान्हा जी को प्रिय माखन, मिश्री, शहद समेत आदि चीजों का भोग लगाना चाहिए. धार्मिक मान्यता के अनुसार सच्चे मन से श्रीकृष्ण की उपासना करने से प्रभु की कृपा प्राप्त होती है. साथ ही जातक को मृत्यु लोक में सभी प्रकार के सांसारिक सुख प्राप्त होते हैं. भगवान श्रीकृष्ण के लिए कुछ चीजें बहुत प्रिय हैं, जिनको घर में रखने से सुख-समृद्धि और धन में वृद्धि होती है.

मात्र 25,000 रुपए के लिए भाई ने साइलेंसर से पीट कर भाई की कर दी हत्या, ये था मामला..
जून 17, 2024 | 17 Jun 2024 | 9:40 PM

यूपी के बिजनौर से एक हैरान करने वाली खबर सामने आ रही है, यहां एक भाई ने अपने ही दूसरे भाई को मोटरसाइकिल के साईलेंसर से हमला कर उसकी हत्या कर दी. मृतक दिल्ली में रहकर काम करता था और इद मनाने घर आया था. बता दें कि 25 हजार रुपए के लिए भाई ने भाई की हत्या कर दी

आईआईटी खड़कपुर की छात्रा का संदिग्ध अवस्था में हुई मौत, ये था मामला..
जून 17, 2024 | 17 Jun 2024 | 9:08 PM

आईआईटी खड़कपुर से एक छात्रा के संदिग्ध स्थिति में मौत की खबर सामने आ रही है. सोमवार को छात्रा का शव छात्रावास में फांसी की फंदे से लटकती हुई मिली.

रायबरेली से सांसद बने रहेंगे Rahul Gandhi, वायनाड़ सीट से उप-चुनाव लड़ेंगी Priyanka Gandhi
जून 17, 2024 | 17 Jun 2024 | 7:37 AM

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने हाल ही में सम्पन्न हुए लोकसभा चुनाव में रायबरेली व वायनाड़ सीट से चुनाव में जीत दर्ज की थी. आज सोमवार को कांग्रेस की बैठक में फैसला लिया गया कि राहुल गांधी रायबरेली सीट पर सांसद बने रहेंगे और वह केरल के वायनाड़ सीट को छोड़ेंगे. अब वायनाड़ में उप चुनाव होगा, जहां से कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी चुनाव लड़ सकती हैं.

इस चिलचिलाती गर्मी में होती है चिड़चिड़ी, आपके मूड को बेहतर बनाने में मदद करेंगे यह फल
जून 17, 2024 | 17 Jun 2024 | 8:33 AM

हमारे मूड को कई कारक प्रभावित करते हैं, जिसमें जीवनशैली, हम क्या खाते हैं और कसरत शामिल हैं. फलों में कई पोषक तत्व होते हैं जो न केवल हमारे शारीरिक स्वास्थ्य के लिए अच्छे होते हैं बल्कि हमारे मूड को भी बेहतर बनाते हैं. कुछ फल तनाव को कम करते हैं और हमें खुश रखने में मदद करते हैं. आइए मानसिक स्वास्थ्य के लिए अच्छे कुछ फलों पर नज़र डालें. हालाँकि, किसी भी स्वास्थ्य सेवा संबंधी निर्णय लेने या किसी विशिष्ट चिकित्सा स्थिति के बारे में मार्गदर्शन के लिए कृपया अपने स्वास्थ्य सेवा प्रदाता से सलाह लें.