Monday, Mar 4 2024 | Time 17:52 Hrs(IST)
 logo img
  • प्रबंधन के आश्वासन के बाद गेट जाम स्थगित, ओएनजीसी प्लांट गेट पर धरना है जारी
  • आखिर क्यों मिटने वाला हैं कतरासगढ़ रेलवे स्टेशन का अस्तित्व ?
  • आखिर क्यों मिटने वाला हैं कतरासगढ़ रेलवे स्टेशन का अस्तित्व ?
  • तत्कालीन SSP संजीव कुमार ने मुझे गलत मुकदमे में फंसाया - ढुलू महतो
  • #IamVerifiedVoter सोशल मीडिया कैंपेन का जिला स्तरीय कार्यक्रम कर मतदाताओं को जागरूक करने का प्रयास
  • राज्य में व्याप्त भ्रष्टाचार के खिलाफ भाजपा का प्रखण्ड सह अंचल कार्यालय के समक्ष धरना-प्रदर्शन
  • मानगो थाना पुलिस ने पारडीह से पिस्टल के साथ एक बदमाश को किया गिरफ्तार, फायरिंग के मामले में था फरार
  • क्लोन फिंगरप्रिंट के जरिए आधार आधारित भुगतान उड़ाने वाले साइबर ठग को पुलिस ने कमलपुर से गिरफ्तार कर भेजा जेल
  • क्लोन फिंगरप्रिंट के जरिए आधार आधारित भुगतान उड़ाने वाले साइबर ठग को पुलिस ने कमलपुर से गिरफ्तार कर भेजा जेल
  • 'PM मोदी हिन्दू नहीं ' बोलना लालू -तेजस्वी को पड़ा भारी !
  • 'PM मोदी हिन्दू नहीं ' बोलना लालू -तेजस्वी को पड़ा भारी !
  • ST-SC एक्ट मामले में हाईकोर्ट से ED अधिकारियों को राहत
  • दुमका में विदेशी महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म मामले में हाईकोर्ट ने लिया संज्ञान
  • बिष्टुपुर के लोयोला कॉलेज में DC व SSP ने आई ऐम वेरीफाइड वोटर कैंपेन का किया शुभारंभ
  • आचार संहिता उल्लंघन के दस साल पुराने मामले में टुन्नू गोप को मिली रिहाई
NEWS11 स्पेशल


गणतंत्र दिवस पर सुनें देशभक्ति से भरे ये गाने, साल बीते लेकिन नहीं उतरा खुमार

गणतंत्र दिवस पर सुनें देशभक्ति से भरे ये गाने, साल बीते लेकिन नहीं उतरा खुमार
न्यूज़11 भारत

रांची/डेस्क: आज देश अपना 75वां गणतंत्र दिवस मना रहा है. भारत को 26 जनवरी 1950 अपना संविधान मिला था. गणतंत्र दिवस को लेकर पुरे देश में उत्साह का माहौल है. जिसे बनने में तकरीबन 2 साल 11 महीने और 18 दिन का समय लगा था.आज नई दिल्ली के कर्तव्य पथ पर भव्य परेड निकाली जाएगी.परेड में अर्धसैनिक बलों, सशस्त्र बलों, और पुलिस के मार्च-पास्ट के साथ-साथ भारतीय वायु सेना के फ्लाई-पास्ट और मोटरसाइकिल टीम के साहसी करतब भी शामिल होंगे. कई देश भक्त गणतंत्र दिवस को देश भक्ति गाने सुनकर भी मनाते है. तो आइये आज हम आपको कुछ देशभक्ति गानों के बारे में बताते है जिसे सुनकर आपकी रगों में भी देशभक्ति दौड़ेगी. 

 

 

1. कर चले हम फिदा जाने तन साथियों

 

हक़ीकत फ़िल्म 1964 में आई थी. जिसे लोगों ने काफ़ी पसंद किया था.इस फिल्म में सैनिक के मन का अंतिम संदेश दिया गया है. इस फिल्म का गाना 'कर चले हम फ़िदा जान-ओ-तन साथियों अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों' आज भी लोकप्रिय है. इसके बोल मशहूर गीतकार कैफ़ी आज़मी ने लिखा था और इसे आवाज मोहम्मद रफ़ी ने दी थी. ये गाना सुनकर देशभक्तों के अंदर जोश भर जाता है.


 

2. संदेशे आते हैं

 

1997 की फिल्म बॉर्डर आई थी.गाने का नाम संदेशे आते हैं' था. इस गाने में जावेद अख़्तर ने बताया है कि बारूदों के गोले,गोलियों की आकस्मिक बौछारें,चांद की छत्त, ऊबड़-खाबड़ ज़मीन के बीच जब किसी फ़ौजी को सैकड़ों किलो मीटर दूर उसके घर से संदेश मिलता होगा तब वह कैसे विचलित होता होगा. सैनिकों को समर्पित इस गाने को संगीत अनु मलिक ने दिया था. इस गाने को आवाज सोनू निगम व रूप कुमार राठौर ने दिया है. इस गाने को सुनकर आपके अंदर जोश भर जायेगा है.


 

3. तेरी मिट्टी

 

2019 में आई अक्षय कुमार की फिल्म केसरी का 'तेरी मिट्टी' गाना बेहद ही हिट हुआ था. देश के प्रति जान देने की भावना को इस गाने में बहुत ही खूबसूरत ढंग से दर्शाया गया है. इसे सुनकर एक अलग ही एनर्जी आती है.


 

4. चक दे इंडिया

 

2007 में आई शाहरुख खान की फ़िल्म चक दे इंडिया का टाइटल ट्रैक आज के दिन सुना जा सकता है. ये गाने को आवाज सुखविंदर ने दी है. यह गाना हर किसी को पसंद आता है.

 

 

5.ऐ वतन

 

2018 में आई फिल्म 'राजी' का 'ऐ वतन' गणतंत्र दिवस के लिए एक बेहतरीन गाना है. गाने को गुलज़ार ने लिखा है और संगीत शंकर-  एहसानलॉय ने दिया है. ये गाना सुनकर खड़े हो जाते हैं. 


 

6. अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों

 

2004 में आई फिल्म अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों का ये गाना हर किसी को पसंद आता है.


 

7. मेरा रंग दे बसंती चोला

 

2002 में आई फिल्म द लीजेंड ऑफ भगत सिंह का गाना 'मेरा रंग दे बसंती चोला गीत'काफ़ी पॉपुलर गाना है. इस गाने को सोनू निगम और मनमोहन वारिस ने गाया है

 

.

 

8. ये जो देश है मेरा

 

शाहरुख़ की फिल्म स्वदेश का नाम नहीं हो, ऐसा नहीं हो सकता है. शाहरुख़ की फिल्म जो देशभक्ति को दर्शाती है, इस फिल्म का यह गाना "ये जो देश है मेरा" बेहद शानदार सॉन्ग है, जिसे ए आर रहमान ने गाया है.

 


 

अधिक खबरें
संसदीय चुनाव में राड़ तय, राजद की तैयारी चार पर
फरवरी 24, 2024 | 24 Feb 2024 | 8:52 PM

राज्य में होने वाले 14 संसदीय चुनाव में राड़ का होना तय माना जा रहा है. आईएनडीआईए के घटक दल में शामिल राजद ने एक बार फिर कहा है कि वह चार संसदीय सीट पर चुनाव लड़ेगा. वे सीटें हैं गोड्डा, कोडरमा, पलामू और चतरा. राजद के नेता रंजन कुमार यादव ने कहा है कि उनकी तैयारी शुरू हो चुकी है. हम चार संसदीय सीटों पर चुनाव लड़ेगे.

यूपी बिहार तक फैल रहा सिमडेगा के कटहल का स्वाद
फरवरी 22, 2024 | 22 Feb 2024 | 7:18 AM

अपने वनोपज के लिए राज्य में विशेष स्थान रखने वाला सिमडेगा अपने कटहल के स्वाद के लिए भी बिहार यूपी तक मशहूर है। एक रिपोर्ट सिमडेगा के कटहल का स्वाद पंहुचता है बिहार तक। सिमडेगा के कटहल की पटना में होती है खास डिमांड। अच्छी तरह पकने और स्वादिष्ट होने कारण है इसकी मांग। वैसे तो कटहल झारखंड के लगभग हर जिलों में पाया जाता है और खास कर झारखंड का दक्षिण छोटानागपुर प्रमंडल में कटहल बहुतायत पाया जाता है। सिमडेगा के कटहल का स्वाद पंहुचता है बिहार तक। सिमडेगा के कटहल की पटना में होती है खास डिमांड। अच्छी तरह पकने और स्वादिष्ट होने कारण है इसकी मांग। वैसे तो कटहल झारखंड के लगभग हर जिलों में पाया जाता है और खास कर झारखंड का दक्षिण छोटानागपुर प्रमंडल में कटहल बहुतायत पाया जाता है। सिमडेगा में लगभग हरेक किसान के पास चार से दस पेड कटहल के होते हैं। एक पेड से चार से सात क्विंटल कटहल उत्पादन होता है।

सवा नौ साल के बाद अफसरों ने देखा उद्योग मंत्री
फरवरी 21, 2024 | 21 Feb 2024 | 7:57 PM

लगभग सवा नौ साल बाद उद्योग विभाग को अपना कोई मंत्री मिला है. इससे पहले राज्य में रघुवर दास की सरकार थी. तब उन्होने उद्योग विभाग का मंत्रालय अपने पास रखा था. उसके बाद सरकार बदली तो नये मुख्यमंत्री के रूप में हेमंत सोरेन ने पदभार संभाला. तब भी संयोग ऐसा बना कि राज्य को कोई नया उद्योग मंत्री नहीं मिल सका और इसे हेमंत सोरेन ने अपने पास रख लिया. लगभग सवा चार साल बाद राज्य में नये मुख्यमंत्री के रूप में चंपई सोरेन ने पदभार संभाला.

झारखंड में जातीय जनगणना को लेकर चंपई सरकार ने बढ़ाए कदम
फरवरी 20, 2024 | 20 Feb 2024 | 8:44 PM

झारखंड में नगर निकाय चुनाव में जातीय जनगणना का मामला एक बार फिर से तूल पकड़ता जा रहा है। सूबे में विपक्षी पार्टी बीजेपी और आजसू ने राज्य सरकार पर आरोप लगाया है कि सत्ताधारी दल जातीय जनगणना कराने से पीछे हट रही है। यही कारण है कि राज्य में वर्तमान की गठबंधन की सरकार ने चार साल तक जातीय जनगणना को लेकर टाल-मटोल की रणनीति अपनाती रही। बीजेपी और आजसू के नेताओं ने इस बारे में लगातार सरकार पर सवाल उठाती रही कि आखिर जातीय जनगणना कराने में क्या परेशानी आ रही है।

मंत्री बनाना ही होगा उससे कम स्वीकार नहीं : बैद्यनाथ राम
फरवरी 17, 2024 | 17 Feb 2024 | 8:18 PM

चंपई सोरेन सरकार का विस्तार शुक्रवार को हुआ. यह विस्तार जितनी चर्चा नहीं पा सका उससे अधिक इस बात की चर्चा होने लगी कि एक दलित विधायक जो झारखंड मुक्ति मोर्चा का ही है, उसे मंत्री पद की शपथ लेने से रोक दिया गया.इसके बाद से यह झारखंड ही नहीं पूरे देश की मीडिया में चर्चा का विषय बन गया.बैद्यनाथ राम ने अपनी त्वरित प्रतिक्रिया में कहा था कि वह बहुत ही अपमानित महसूस कर रहे हैं.