Friday, Mar 1 2024 | Time 11:05 Hrs(IST)
 logo img
  • ये कैसी मोहब्बत, प्रेमिका ही निकली प्रेमी की कातिल, कार सहित जलाया शव
  • लोकसभा चुनाव 2024 के मद्देनजर प्रशिक्षण कोषांग को डीसी ने दिए कई निर्देश
  • धनबाद से अयोध्या के लिए 5 मार्च को रवाना होगी आस्था स्पेशल ट्रेन, जानें टाइम टेबल
  • धनबाद से अयोध्या के लिए 5 मार्च को रवाना होगी आस्था स्पेशल ट्रेन, जानें टाइम टेबल
  • डॉ संजय गिरी ने स्कूल में बोरिंग कराकर पानी टंकी सह पाइपलाइन कनेक्शन प्रदान किया
  • आज धनबाद दौरे पर होंगे PM मोदी, सिंदरी में हर्ल कारखाने का करेंगे उद्घाटन
  • दो सगे भाइयों को खेलने के दौरान काटा जहरीला सांप, इलाज के दौरान एक भाई की मौत
  • सीसीएल में बीएंडके और ढोरी एरिया में 22 सेवानिवृत्त कर्मियों को दी गई विदाई
  • बोकारो के चास में पुपनकी रेलवे ओवर ब्रिज के पास चलती ट्रक पर लगी आग
  • Jharkhand Weather Update: झारखंड में फिर छाएंगे बादल, ठंड से मिलेगी थोड़ी राहत
झारखंड


केंद्र सरकार ने राज्यों से कहा आईएएस, आईपीएस अधिकारियों को सेंट्रल डेप्यूटेशन पर भेजें

केंद्र सरकार ने राज्यों से कहा आईएएस, आईपीएस अधिकारियों को सेंट्रल डेप्यूटेशन पर भेजें
न्यूज11 भारत




रांचीः केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने झारखंड समेत सभी राज्यों से आग्रह किया है कि ज्यादा आईएएस और आईपीएस अधिकारियों को सेंट्रल डेप्यूटेशन पर भेजें. केंद्रीय कार्मिक राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने राज्य सरकारों से अक्षम और भ्रष्ट कर्मचारियों को बाहर निकालने में सहयोग मांगा है. यह बातें राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों (यूटी) के प्रधान सचिवों के वार्षिक सम्मेलन में ये बातें में केंद्रीय मंत्री ने कही. इस सम्मेलन को सामान्य प्रशासन और प्रशासनिक सुधारों से संबंधित कार्यों पर विचार-विमर्श करने के लिए आयोजित किया गया था. केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि एक अखिल भारतीय सेवा अधिकारी राज्य और केंद्र दोनों के भीतर सरकार का एक महत्वपूर्ण इंटरफेस है. उन्होंने कहा कि देश में अखिल भारतीय सेवाओं के कैडर प्रबंधन के लिए पहले से ही एक ढांचा है और इसके मुताबिक काम करने की जरूरत है. इस संबंध में एक विशेष पहलू केंद्र में अखिल भारतीय सेवा अधिकारियों की तैनाती भी है. उन्होंने कहा कि अधिकांश राज्य अपने केंद्रीय प्रतिनियुक्ति रिजर्व (सीडीआर) दायित्वों को भी पूरा नहीं कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि केंद्र में सेवा के लिए राज्यों द्वारा प्रायोजित अधिकारियों की संख्या बहुत कम है. केंद्रीय प्रतिनियुक्ति हमारे देश में संघीय ढांचे का हिस्सा है. मंत्री ने कार्मिक और प्रशिक्षण विभाग (डीओपीटी) को सूचित करते हुए उनके पास लंबित ऐसी सभी समीक्षाओं को शीघ्रता से पूरा करने में राज्य सरकारों के सहयोग का अनुरोध किया.केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर आईएएस और आईपीएस अधिकारियों की तैनाती के लिए प्रत्येक राज्य का केंद्रीय प्रतिनियुक्ति रिजर्व कोटा तय है. यह राज्य में सीनियर ड्यूटी पोस्ट के लिए उपलब्ध पदों का 40 प्रतिशत तक होता है, लेकिन आंकड़े बताते हैं कि पिछले तीन सालों में इस कोटे के एक तिहाई संख्या में भी आईएएस और आईपीएस अधिकारी केंद्रीय प्रतिनियुक्ति का अवसर नहीं पा रहे हैं.

 


 
अधिक खबरें
डॉ संजय गिरी ने स्कूल में बोरिंग कराकर पानी टंकी सह पाइपलाइन कनेक्शन प्रदान किया
मार्च 01, 2024 | 01 Mar 2024 | 9:51 AM

बहरागोड़ा के मानुषमुड़िया सरस्वती शिशु मंदिर में संपूर्ण मानवता कल्याण संघ के अध्यक्ष डॉ संजय गिरी ने उपस्थित बुजुर्गों तथा ग्रामीणों के हाथों पानी टंकी सह पाइपलाइन कनेक्शन का शिलान्यास किया.

आज धनबाद दौरे पर होंगे PM मोदी, सिंदरी में हर्ल कारखाने का करेंगे उद्घाटन
मार्च 01, 2024 | 01 Mar 2024 | 9:09 AM

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज धनबाद को विकास योजनाओं की सौगात देंगे. आज पीएम मोदी धनबाद आ रहे हैं. पीएम मोदी 3 घंटे तक धनबाद में रहेंगे. पीएम मोदी सिन्दरी स्थित हर्ल कारखाने का उद्घाटन करने के साथ ही वहां से धनबाद रेल मंडल को सौगात भी देगें.

Jharkhand Weather Update: झारखंड में फिर छाएंगे बादल, ठंड से मिलेगी थोड़ी राहत
मार्च 01, 2024 | 01 Mar 2024 | 7:08 AM

एक बार फिर से राजधानी रांची समेत आसपास के जिलों में आंशिक बादल छाए रहने की संभावना है. जिससे ठंड से थोड़ी राहत मिल सकती है.

झारखंड के 10 IAS अफसरों को सरकार ने दी प्रोन्नति
फरवरी 29, 2024 | 29 Feb 2024 | 8:30 PM

झारखंड में चंपाई सरकार ने 10 IAS अधिकारियों को प्रोन्नति दी है. इसे लेकर झारखंड सरकार, कार्मिक, प्रशासनिक सुधार तथा राजभाषा विभाग ने अधिसूचना जारी की है जिसमें प्रोन्नति आईएएस अधिकारियों के नाम की लिस्ट है.

नीतीश कुमार तय करेंगे झारखंड में JDU की सीटें
फरवरी 29, 2024 | 29 Feb 2024 | 7:59 PM

आइएनडीआईए गठबंधन से एनडीए के पाले में आ चुके जदयू की बांछे खिली हुई है. जदयू अब झारखंड में इत्मीनान वाली जमात में शामिल हो चुकी है. जदयू को लग रहा है कि झारखंड से उनके एक ना एक उम्मीदवार का लोकसभा जाने का रास्ता लगभग साफ हो गया है.