Thursday, Apr 25 2024 | Time 07:06 Hrs(IST)
 logo img
  • चैम्बर भवन में आयोजित हुआ मतदाता जागरूकता अभियान, मतदान के प्रति व्यापारियों को किया गया जागरूक
  • चैम्बर भवन में आयोजित हुआ मतदाता जागरूकता अभियान, मतदान के प्रति व्यापारियों को किया गया जागरूक
  • सुदेश महतो से संजय सेठ ने मुलाकात की लोकसभा चुनाव को लेकर रणनीति पर हुई चर्चा
  • 25 अप्रैल को सभी निजी एवं सरकारी स्कूलों में पेरेंट्स टीचर मीटिंग होगी आयोजित, मतदान के प्रति किया जाएगा जागरूक
  • नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के खिलाफ सुरक्षा बलों को मिली बड़ी सफलता
  • नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के खिलाफ सुरक्षा बलों को मिली बड़ी सफलता
स्वास्थ्य


अगर आप भी डॉक्टर की सलाह लिये बिना दवा लेते है तो हो जाएं सावधान!

अगर आप भी डॉक्टर की सलाह लिये बिना दवा लेते है तो हो जाएं सावधान!

न्यूज11 भारत


रांची: इस युग में हम इतना विकास कर चुके है कि हमारा कोई भी सवाल का जवाब इंटरनेट पर मिल जाता है. हमें हर तरह की जानकारी इंटरनेट और सोशल मीडिया के जरिये प्राप्त हो जाता है. जानकारी तक तो यह बात सही है, लेकिन इससे आगे जाकर खुद ही इसका इलाज करना आपके जीवन को जोखिम में डाल सकता है. ऐसा ही एक हालिया एक मामला सामने आया है. जहां एक व्यक्ति ने दांत के दर्द के लिए यूट्यूब वीडियो में बताई गई औषधि का बहुत अधिक मात्रा में प्रयोग करने से उसकी मौत हो गई.


बता दें, झारखंड राज्य के अजय महतो नाम के युवक दांत के दर्द से काफी दिनों परेशान था. उसने यूट्यूब में दांत के दर्द के उपाय के बारे में सर्च किया. और यूट्यूब वीडियो में जैसा बताया गया वैसा ही उपायों के आधार पर उसने बहुत अधिक मात्रा में कनेर (ओलियंडर) के बीज खा लिया, जिससे उसकी मौत हो गई. ओलियंडर के बीज खाने के बाद युवक की तबीयत बिगड़ने लगी. उसे नजदीकी अस्पताल में ले जाया गया. जहां उसकी मौत हो गई. मृतक के पिता ने बताया कि उनका बेटा अजय को सप्ताह पहले उसके दांत में तेज दर्द हुआ. उसने ढेर सारे यूट्यूब वीडियो देखने के बाद ओलियंडर के बीज वाले उपाय को अपनाया. 


ये भी पढ़ें- चाकू से किया जानलेवा हमला, बीच बचाव में पांच अन्य लोग को भी लगी चोट


आइएएनएस के एक रिपोर्ट के मुताबिक,


कभी-कभार इंटरनेट पर हमें स्वास्थ्य समस्याओं के बारे में सही जानकारी मिल सकती है लेकिन अधिकतर यह ऑनलाइन जानकारी आपकी समस्या को बढ़ा सकती है. इन दिनों खुद से जांच शुरू कर देना और दवाइयां लेना बहुत सामान्य बात हो गई है. इसकी कई वजहें हैं जिसमें समय की कमी, आर्थिक विषमता, जागरूकता की कमी, आकर्षक विज्ञापन और औषधियों का आसानी से उपलब्ध होना शामिल है. इन सभी कारणों से खुद से इलाज करने का चलन बढ़ रहा है.

अधिक खबरें
Summer Diet: गर्मियों में हेल्दी रहने के लिए रोज खाएं ये 4 फाइबर फूड, कंट्रोल में रहेगा वजन
अप्रैल 20, 2024 | 20 Apr 2024 | 8:58 AM

अप्रैल का महिना शुरू हो गया है. गर्मी ने अपना कहर दिखाना शुरू भी कर दिया है. इस गर्मी में अपने आप को स्वस्थ रखने के लिए विटामिन, मिनरल्स, फाइबर और प्रोटीन से भरपूर भोजन का सेवन करना बहुत जरूरी होता है. बता दें कि पेट को स्वस्थ रखने में फाइबर अहम भूमिका निभाता है.जैसे की फाइबर हमारे पेटकी समस्या को दूर रखता है. वहीं ये पाचन शक्ति को भी दुरुस्त रखता है. वहीं फाइबर का सेवन करके हम अपने वजन पर भी काबू पा सकते है. आप फाइबर के सेवन के लिए ड्राई फ्रूट्स, साबुत अनाज, बीन्स और कई तरह की फल और सब्जियों का से

मानव शरीर के वो तीन अंग जो कभी नहीं होते विकसित, जन्म से मृत्यु तक एक समान रहते है
अप्रैल 17, 2024 | 17 Apr 2024 | 4:57 PM

मनुष्य के जन्म और मृत्यु तक शरीर में कई परिवर्तन होते है. हाथ-पैर, बाल और शरीर का आकार तक सभी विकसित होते है.

अगर नजर आ रहे हैं ये लक्षण तो हो जायेंगे सावधान, हो सकती है ये गंभीर बीमारी
अप्रैल 16, 2024 | 16 Apr 2024 | 12:36 PM

आज कल की भागदोड़ की जिंदगी में अकसर हम अपनी सेहत पर ध्यान नहीं पाते. जिसकी वजह से हमे कई तरह की बिमारियों का सामना करना पड़ता है. वहीं दुनिया में डायबिटीज और प्री-डायबिटीज के मरीजों की संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है. आज कल डायबिटीज की समस्या काफी कॉमन हो गई है. एक रिपोर्ट के अनुसार, डायबिटीज 8 में 1 लोग को अपनी चपेट में ले रही है. तो आइये जानते है कि हम डायबिटीज के लक्षण को कैसे पहचान सकते है-

अप्रैल 15, 2024 | 15 Apr 2024 | 6:36 PM

गर्मियों के मौसम में मिलने वाला फल शहतूत अब बाजारों में आसानी से देखा जा रहा है. ये वो फल है, जिसके सामने बड़ी-बड़ी बीमारियां फेल हो जाती है.

No Smoking Day 2024: नशा खराब करता है आपकी शान, ना डालें खतरे में जान
मार्च 13, 2024 | 13 Mar 2024 | 1:03 AM

आज आज कल के समय में भले ही नशा भले ही शान और लत के लिए किया जाता हो. लेकिन नशा करने वाले लोगों के साथ कब क्या हो जाएं, कुछ कहा नहीं जा सक