Thursday, Apr 25 2024 | Time 07:36 Hrs(IST)
 logo img
  • बाराद्वारी में आपसी रंजिश को लेकर जमकर हुई मारपीट, फिर चली गोली
  • बाराद्वारी में आपसी रंजिश को लेकर जमकर हुई मारपीट, फिर चली गोली
  • चैम्बर भवन में आयोजित हुआ मतदाता जागरूकता अभियान, मतदान के प्रति व्यापारियों को किया गया जागरूक
  • चैम्बर भवन में आयोजित हुआ मतदाता जागरूकता अभियान, मतदान के प्रति व्यापारियों को किया गया जागरूक
  • सुदेश महतो से संजय सेठ ने मुलाकात की लोकसभा चुनाव को लेकर रणनीति पर हुई चर्चा
  • 25 अप्रैल को सभी निजी एवं सरकारी स्कूलों में पेरेंट्स टीचर मीटिंग होगी आयोजित, मतदान के प्रति किया जाएगा जागरूक
  • नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के खिलाफ सुरक्षा बलों को मिली बड़ी सफलता
  • नक्सली संगठन भाकपा माओवादी के खिलाफ सुरक्षा बलों को मिली बड़ी सफलता
NEWS11 स्पेशल


साहिबगंज डीएसपी राजेंद्र दुबे पहुंचे ईडी दफ्तर, पूछताछ शुरू

रिम्स के काटेज में रहे पंकज मिश्रा से लगातार फोन करने का है आरोप
साहिबगंज डीएसपी राजेंद्र दुबे पहुंचे ईडी दफ्तर, पूछताछ शुरू

न्यूज11 भारत


रांची: साहेबगंज के पुलिस उपाधिक्षक राजेंद्र दुबे प्रवर्तन निदेशालय (इडी) के क्षेत्रीय कार्यालय में शुक्रवार को उपस्थित हुए. इन पर राजेंद्र आर्युविज्ञान संस्थान के कॉटेज में इलाजरत सजायाफ्ता पंकज मिश्रा से फोन पर बातचीत करने का आरोप लगा है. उन्हें इडी ने समन कर 8 दिसंबर को बुलाया था. लेकिन आठ दिसंबर को राजेंद्र दुबे उपस्थित नहीं हुए. इडी के अधिकारियों ने अब राजेंद्र दुबे से पूछताछ शुरू कर दी है. इडी की तरफ से साहेबगंज जिले में हुए एक हजार करोड़ के अवैध खनन और ट्रांसपोर्टेशन घोटाले का मुख्य आरोपी पंकज मिश्रा को बनाया गया है. इडी के क्षेत्रीय कार्यालय में संयुक्त निदेशक स्तर के अफसर पंकज मिश्रा और डीएसपी के बीच हुए आईडी फोन प्रकरण मामले में पूछताछ शुरू कर दी है.

 


 

इसी मामले में ईडी ने छह दिसंबर को सूरज पंडित और सात दिसंबर को चंदन यादव को पूछताछ के लिए समन किया था. ये दोनों भी ईडी के समक्ष हाजिर नहीं हुए थे. ईडी इस मामले में पुलिस पदाधिकारी व दोनों अन्य आरोपियों के उपस्थित नहीं होने को काफी गंभीर मान रही है. ईडी को संदेह है कि साहिबगंज डीएसपी पंकज मिश्रा के निर्देश पर जिला पुलिस के माध्यम से कथित तौर पर अपने विपक्षियों के खिलाफ बदला लेने की नीयत से काम कर रहे थे. पंकज मिश्रा न्यायिक हिरासत में रिम्स से डीएसपी को लगातार फोन करते रहे. पंकज मिश्रा ने डीएसपी को ऐसे व्यक्तियों की पहचान करने और उनके खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए, जिन लोगों ने अवैध पत्थर खनन घोटाले में ईडी के समक्ष अपना बयान दर्ज कराया था.

 
अधिक खबरें
महुआ के 'फूलों की खुशबू' से गरीबों के जीवन में आ रही 'खुशहाली'
अप्रैल 08, 2024 | 08 Apr 2024 | 1:56 AM

हजारीबाग में मार्च महीने के अंतिम सप्ताह में जंगलों में महुआ के फूल गिरने लगते हैं. इन्हें इकट्ठा करने के लिए लोग मार्च से मई महीने में करीब 15 दिनों तक जंगल जाते हैं. इस दौरान महुआ के फूलों को चुनने के लिए पेड़ के नीचे की जमीन को साफ करने के लिए सूखे पत्तों में आग लगा दी जाती है.

पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा से खास बातचीत, बेबाकी से रखी अपनी बात
अप्रैल 05, 2024 | 05 Apr 2024 | 9:36 AM

पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने अपने आवास ऋषभ वाटिका में हजारीबाग संसदीय क्षेत्र की राजनीति के अलावे देश के बड़े मुद्दों पर अपनी राय रखते हुए मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला. कहा कि 1984 में भले ही हजारीबाग संसदीय क्षेत्र की जनता ने मुझे महज 10 हुजार 727 वोट दिया लेकिन मुझे इन वोटों के साथ एक निर्वाचन क्षेत्र मिल गया. मैं जब चाहूं हजारीबाग में भाजपा को दो फाड़ कर सकता हूं. इन 40 वर्षों के अपने इ

महुआ बन रहा ग्रामीणों के आर्थिक संरचना का आधार: बिचौलियों के कारण नहीं मिल रहा ग्रामीणों को उचित मूल्य
मार्च 28, 2024 | 28 Mar 2024 | 11:25 AM

झारखण्ड के दक्षिणी छोर पर बसे सिमडेगा की मुख्य आर्थिक संरचना वन उत्पादों पर आधारित है. कल कारखानों से रहित इस जिले मे मुख्य जीविका वनो से निकली उत्पादो पर ही अधारित हैं इन मे से सबसे महत्वपुर्ण उत्पाद महुआ है.

Summer Vacation: अगर आप भी गर्मी में कर रहे है घूमने का प्लान तो जरूर विजिट करें देश की ये बेस्ट जगहें
मार्च 18, 2024 | 18 Mar 2024 | 1:20 AM

हमारा भारत एक ऐसा देश है जहां हर मौसम में घूमने के लिए जगह बदल जाती है. अब लोगों को लगभग लगभग ठंड से राहत मिल गयी है. वहीं अब गर्मी का मौसम आने वाला ही है. ऐसे में लोग अभी से ही गर्मियों की छुट्टी में घूमने का प्लान बना लेते है. अगर आप भी घूमने का प्लान बना

महिलाओं को सफर में नहीं लेना होगा टेंशन क्योंकि अब साथ है 'मेरी सहेली'
मार्च 15, 2024 | 15 Mar 2024 | 3:21 AM

दिन-ब-दिन महिलाओं के साथ अत्याचार बढ़ते जा रहे हैं. ट्रेन हो या चाहे बस कहीं भी महिलाएं सुरक्षित नहीं है. ऐसे में सरकार द्वारा महिलाओं की सुरक्षा के लिए कई तरह की योजना लाई जाती है. मेरी सहेली योजना भी एक ऐसी योजना है, जिसमें महिलाओं को यात्रा के समय सुविधाएं दी जाती है.